ईशान और राहुल त्रिपाठी की उलटी गिनती हुई शुरू, टी20 सीरीज से पहले फिट हुआ यह खतरनाक खिलाड़ी
ईशान और राहुल त्रिपाठी की उलटी गिनती हुई शुरू, टी20 सीरीज से पहले फिट हुआ यह खतरनाक खिलाड़ी

IND vs SL: भारतीय टीम को अगले साल की शुरुआत में ही श्रीलंका के साथ तीन मैचों की वनडे सीरीज और तीन मैचों की टी-20 सीरीज खेलनी है। जिसके लिए मंगलवार को ही टीम इंडिया के स्कोर की घोषणा हो चुकी है। हालांकि इन दोनों ही सीरीज में में कई सारे नए पुराने खिलाड़ियों का कॉन्बिनेशन तैयार किया गया है लेकिन इस सीरीज के लिए कैसे खिलाड़ी का चुनाव नहीं किया गया है जो टीम में जगह बनाने के पूरे काबिल है।

Read More : IND vs BAN: बांग्लादेश दौरे के बीच भारतीय टीम को लगा बड़ा झटका, चोट के चलते दूसरे टेस्ट से भी बाहर हुए ये मैच विनर खिलाड़ी

एशिया कप टूर्नामेंट के बाद नहीं मिला मौका

हम जीत खिलाड़ी की बात कर रहे हैं वह कोई और नहीं बल्कि आवेश खान है। आवेश खान एक समय भारतीय टीम के नियमित गेंदबाज थे। लेकिन पिछले कुछ समय से वह लगातार भारतीय टीम से बाहर चल रहे हैं। उन्हें आगामी टी-20 और वनडे सीरीज में मौका नहीं मिला है।

बता दें कि इस खिलाड़ी को विश्वकप में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला था। लेकिन एशिया कप के दौरान ये खिलाड़ी अपनी गेंदबाजी से बिल्कुल भी कमाल नहीं दिखा पाए थे। जिसके कारण है टीम इंडिया से बाहर कर दिया गया और दोबारा इस खिलाड़ी को अभी तक टीम में जगह नहीं दी गई।

खिलाड़ी का क्रिकेट करियर

बात अगर आवेश खान के क्रिकेट करियर की तरह आवेश ने अभी तक भारत के लिए 15 टी20 मैचों में 13 विकेट हासिल किए हैं। इस दौरान उनका एक इकोनॉमी रेट भी 9.10 और औसत 32.5 का था। वहीं इस खिलाड़ी ने अभी तक पांच वनडे मुकाबले खेले हैं। जिसमें उन्होंने 6.026.02 की इकोनॉमी से रन देकर 3 विकेट हासिल किए।

घरेलू लीग में दिखा रहे हैं शानदार प्रदर्शन

खराब इकनॉमी और औसत के कारण ही भारतीय टीम से बाहर किया गया है। लेकिन पिछले कुछ दिनों से विजय हजारे ट्रॉफी रणजी ट्रॉफी में भी काफी बेहतरीन प्रदर्शन दिखा रही हैं। उन्होंने हाल ही में 5 विकेट हॉल भी लिए थे। लेकिन इस खिलाड़ी के बेहतरीन प्रदर्शन को देखने के बावजूद भी इन्हें श्रीलंका के खिलाफ टी-20 और वनडे सीरीज का हिस्सा नहीं बनाया गया है।

Read More : इन 3 खिलाड़ियों के साथ की गई बीसीसीआई द्वारा नाइंसाफी, भारतीय टीम में नहीं मिले ज्यादा मौके