मोहसिन खान से लेकर तिलक वर्मा तक, इस साल आईपीएल में रहा इन युवा खिलाड़ियों का जलवा!
मोहसिन खान से लेकर तिलक वर्मा तक, इस साल आईपीएल में रहा इन युवा खिलाड़ियों का जलवा!

आईपीएल की लीग एक ऐसी लीग मानी जाती हैं। जो अपने आप में ही खास होती है क्योंकि आईपीएल के मैदान पर खेलना हर खिलाड़ी का सपना होता है। और आईपीएल की टैगलाइन भी यही है यह प्रतिभा को मौका मिलता है और साल 2022 की अगर बात करें, तो यह साल काफी सदा खरा उतरा है। इस सीजन में कई सारे ऐसे तेज गेंदबाज हैं। जो सबके सामने आए हैं। तो वही हार्दिक पांड्या ने भारत के संभावित कप्तान होने के रूप में दावा पेश किया है। हैदराबाद के लिए पहली बार खेलने वाले उमरान मलिक की करें, तो हमें लगातार 150 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से अपनी बेहतरीन क्षमता को दुनिया के आगे रखा है।

इतना ही नहीं वही बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मोहसिन खान ने नई फ्रेंचाइजी लखनऊ की ओर से बेहतरीन गेंदबाजी करने का शानदार नजारा दिखाया है। इसके अलावा चेन्नई सुपर किंग के मुकेश चौधरी और सिमरजीत सिंह की करें या फिर गुजरात के यश दयाल और राजस्थान की कुलदीप सेन की करें, तो इन्होंने भी इस लीग में अपनी छाप छोड़ने में काफी ज्यादा कामयाबी हासिल की है।

रोहित ने की तिलक वर्मा की तारीफ

tilak verma
tilak verma

तिलक वर्मा एक ऐसे भी खिलाड़ी रहे हैं, जिन्होंने इस सीजन में अपना बेहतरीन प्रदर्शन दिखाया है। ऐसे ही तिलक वर्मा भी इस लिस्ट में शामिल है। जिनकी तारीफ रोहित शर्मा ने की है। रोहित ने बाएं हाथ के इस बल्लेबाज को भारतीय टीम में खेलने का दावेदार भी बताया है।

अनकैप्ड खिलाड़ियों ने दिखाया जलवा

abhishek sharma
abhishek sharma

आईपीएल के लिए पहले भी खेल चुके अनकैप्ड खिलाड़ियों में राहुल त्रिपाठी और अभिषेक शर्मा ने सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है, राहुल त्रिपाठी भारतीय टीम में जगह बनाने से चूक गए। लेकिन इस सत्र में हार्दिक पांड्या ने भारत के भविष्य के कप्तान होने पर अपनी दावेदारी पेश कर दी है। आपको बता दें कि सीजन शुरू होने से पहले सब ने हार्दिक के कप्तान होने पर सवाल उठाए थे। लेकिन उन्होंने अपना बेहतरीन प्रदर्शन देकर सब के मुंह पर ताला लगा दिया है।

Read More – पंड्या में दिखी लोगों को धोनी की झलक? गुजरात की IPL जीत के सेलिब्रेशन के वक्त जीता सभी का दिल

इस पूरे सीजन में छा गए हार्दिक पांड्या

Hardik Pandya
Hardik Pandya

हार्दिक नेतृत्व में चौथे क्रम पर बल्लेबाजी करने का फैसला किया था और उनके मुताबिक रक्षात्मक और आक्रामक खेल का प्रदर्शन का मध्य सामंजस्य नहीं दिखाया जाता है। आईपीएल ने एक बार फिर साबित किया है कि खेल में उम्र से अधिक संख्या होती है। इस सत्र को अनुभवी उमेश यादव रिद्धिमान साहा और दिनेश कार्तिक के दमदार प्रदर्शन के लिए भी ज्ञात किया जाएगा। कार्तिक ने जहां रॉयल चैलेंज बेंगलुरु के लिए फिनिशर की भूमिका निभाई है। तो वही उमेश यादव ने टूर्नामेंट के लिए बेहतरीन गेंदबाजी की है। इसी के साथ रिद्धिमान साहा ने भी गुजरात के लिए बेहतरीन बल्लेबाजी की।

Read More – अगले 6 महीने तक काफी व्यस्त रहेगी भारतीय टीम! यहां देखें पूरा शेड्यूल