क्रिकेट इतिहास के 5 सबसे चतुर कप्तान! मैदान पर चाणक्य जैसा चलता है दिमाग
क्रिकेट इतिहास के 5 सबसे चतुर कप्तान! मैदान पर चाणक्य जैसा चलता है दिमाग

क्रिकेट का मैदान एक ऐसा मैदान है। जहां पर खिलाड़ियों से ज्यादा कप्तानों की भूमिका अहम होती है। क्योंकि वह ना सिर्फ आपकी टीम का कप्तान है बल्कि आपके लिए एक सेनापति की तरह होता है। जो हमेशा ही अपने टीम को आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। कप्तान ऐसा शख्स होता है। जो आपको जीत की नीव के लिए तैयार करता है। बाकी 10 खिलाड़ी जहां इमारत खड़ी करते हैं, तो कप्तान मैदान के अंदर और बाहर खिलाड़ियों के खेल के प्रति जोश उत्साह भरते हुए दिखाई देता है।

हालांकि जब भी कोई टीम मैच जीतती है तो उसका सारा क्रेडिट कप्तान को दिया जाता है। लेकिन जब कोई टीम हारती है, तो कैप्टन भी सबसे ज्यादा दोषी समझा जाता है। तो चलिए आज हम आपको ऐसे कप्तानों के बारे में बताते हैं। जिनकी मौजूदगी में इन टीमों ने ना सिर्फ अपनी परफॉर्मेंस को सुधारा है बल्कि क्रिकेट के मैदान में भी अपने आप को साफ किया है, इन्होंने सभी के सामने अपनी गहरी छाप छोड़ी है। जिसकी मिसाल समय समय पर दी जाती है, इसलिए आज हम आपको बताते हैं ऐसे पांच कप्तानों के बारें में जिनका दिमाग कंप्यूटर से भी तेज चलता है और उनकी चतुराई के आगे बड़े बड़े खिलाड़ी भी पानी भरते हैं।

रिकी पोंटिंग

Ricky ponting
Ricky ponting

सबसे पहले अगर बात करेंगे ऑस्ट्रेलिया की तरफ से खेलने वाले रिकी पोंटिंग की जो बहुत ही ज्यादा बेहतरीन कप्तान थे। उनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया की टीम ने दो बार वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम किया है। टीम ने साल 2013 में इस ट्रॉफी पर अपना कब्जा जमाया था, हालांकि कहा तो यह भी जाता है कि पोंटिंग ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान थे। उसे हराना बेहद मुश्किल था कि पोंटिंग ने साल 2002 से 2012 के बीच 230 वनडे मैचों के दौरान ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी को किया है। जिसमें उन्होंने 165 मैचों के दौरान जीत हासिल की है। और 51 मैचों में सिर्फ हार का मुंह देखा है, पोंटिंग ने 77 टेस्ट मैच कप्तान के तौर पर खेले हैं। जिसमें ऑस्ट्रेलिया की टीम को 48 मैचों के दौरान जीत मिली है। इतना ही नहीं रिकी पोंटिंग सबसे ज्यादा वनडे मैच जीतने वाले कप्तान हैं।

स्टीफन फ्लेमिंग

स्टीफन फ्लेमिंग
स्टीफन फ्लेमिंग

इस लिस्ट में दूसरा नाम आता है न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग का। जोकि सबसे ज्यादा वनडे मैच में कप्तानी करने वाले खिलाड़ी हैं, फ्लेमिंग ने अपने दम पर न्यूजीलैंड को कई सारे मैच में जीत दिलाई है। फ्लेमिंग ने 1997 से लेकर साल 2007 तक न्यूजीलैंड टीम की कप्तानी की है और इस दौरान उन्होंने 218 मैच खेले हैं। इनमें से 98 मैचों में न्यूजीलैंड को जीत हासिल हुई है और 106 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है। वही बात अगर टेस्ट मैचों की करें, तो इस खिलाड़ी ने टेस्ट मैच खेलते हुए 28 में जीत हासिल की है और 27 में हार का मुंह देखा है।

महेंद्र सिंह धोनी

Dhoni
Dhoni

महेंद्र सिंह धोनी एक ऐसे खिलाड़ी हैं जो अपनी बेहतरीन कप्तानी के लिए जाने जाते हैं। धोनी ने अपने शांत दिमाग से भारतीय टीम को कई सारी जिताऊ पारियां खेली हैं। धोनी आईसीसी द्वारा आयोजित तीनों ही ट्रॉफी जीतने वाले इकलौते ऐसे कप्तान हैं उन्होंने अपनी कप्तानी में भारत को साल 2007 T20 वर्ल्ड कप, साल 2011 वनडे वर्ल्ड कप, साल 2013 चैंपियंस ट्रॉफी भी जिताई है। उन्होंने भारत के लिए 200 वनडे मैच की कप्तानी की है, जिसमें 110 में टीम को जीत हासिल हुई है।

स्टीव वॉ

Steve Waugh
Steve Waugh

ऑस्ट्रेलिया के स्टीव दुनिया के सबसे सफलतम टेस्ट क्रिकेट कप्तान है। आपको बता रहे हैं कि उन्होंने 57 टेस्ट मैचों में ऑस्ट्रेलिया टीम की कप्तानी की है, जिसमें से टीम ने 41 मैचों में जीत हासिल की है। उस समय इस टीम को बहुत ही ज्यादा खतरनाक माना जाता था। इस टीम ने 1999 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान टीम को हराया था और करारी जीत को अपने नाम किया था।

ग्रीम स्मिथ

Graeme Smith
Graeme Smith

ग्रीम स्मिथ की गिनती दुनिया के बेहतरीन कप्तानों में की जाती है। उन्होंने कप्तानी के तौर पर सबसे ज्यादा टेस्ट मैच खेले हैं साउथ अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ ने 109 टेस्ट मैचों की बेहतरीन कप्तानी की है। जिसमें से उन्होंने 53 में जीत हासिल की है, तो वहीं 150 वनडे मैचों के दौरान 92 मैचों में जीत का स्वाद चखा है, लेकिन इस खिलाड़ी ने अभी तक अपनी कप्तानी में साउथ अफ्रीकी टीम को एक बार भी वर्ल्ड कप नहीं दिलाया है।

Read More – दक्षिण अफ्रीका के किस खिलाड़ी से भारतीय टीम को रहना होगा सचेत, इरफान पठान ने बताया नाम