बॉलीवुड की चर्चित एक्ट्रेस रहीं अरुणा ईरानी को फिल्मों में नेगेटिव किरदार के लिए आज भी जाना जाता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अरुणा ने लगभग 300 फिल्मों में काम किया था लेकिन अरुणा को सही मायनों में पहचान उनके द्वारा निभाए गए साइड रोल्स, खासकर नेगेटिव रोल्स के चलते ही मिली थी। अरुणा का जन्म 3 मई 1952 को मुंबई में हुआ था, वहीं एक्ट्रेस ने महज 9 साल की उम्र में फिल्म ‘गंगा जमुना’ से बॉलीवुड में डेब्यू किया था।

अरुणा हैं कमाल की डांसर

बता दें कि अरुणा ना सिर्फ एक बेहतरीन अदाकारा हैं बल्कि कमाल की डांसर भी हैं। अरुणा द्वारा किए गए डांसिंग नंबर्स जैसे ‘दिलबर दिल से प्यारे’ और ‘चढ़ती जवानी मेरी चाल मस्तानी’ आज भी बॉलीवुड के सबसे चर्चित गानों में शुमार हैं।

अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित हैं अरुणा

फिल्मों में अरुणा हीरोइन तो नहीं बन पाईं लेकिन बतौर साइड एक्ट्रेस उन्होंने काफी नाम कमाया। जानकारी के अनुसार अरुणा को साल 1972 में आई फिल्म ‘बॉम्बे टू गोवा’ के बाद सही मायनों में पहचान मिली थी। अरुणा ईरानी को फिल्म ‘बेटा’ और ‘पेट प्यार और पाप’ जैसी फिल्मों के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवार्ड भी मिल चुका है, यही नहीं साल 2012 में अरुणा ईरानी को फिल्मफेयर के लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है। आपको बता दें कि अरुणा ईरानी फिल्मों के साथ ही टीवी सीरियल में भी नज़र आ चुकी हैं। अरुणा द्वारा किए गए चर्चित सीरियल्स में ‘कहानी घर-घर की’, ‘झांसी की रानी’, ‘देखा एक ख्वाब’, ‘परिचय’ आदि शामिल हैं।

ये भी पढ़ें-OTT पर डेब्यू के लिए तैयार हैं करीना कपूर खान, इस एक्टर के साथ करेंगी काम